प्लेटलेट्स बढ़ाने की injection

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना टेस्ट की फर्जी रिपोर्ट बनाने वाले दो जलासाजों को पुलिस ने गि

UP: 900 रुपये में बनाते थे फर्जी कोरोना रिपोर्ट, लैब मालिक ने करवाया अरेस्ट

रुपयेमेंबनातेथेफर्जीकोरोनारिपोर्टलैबमालिकनेकरवायाअरेस्टउत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना टेस्ट की फर्जी रिपोर्ट बनाने वाले दो जलासाजों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. मरीजों से पैसे लेकर ये दोनों फर्जी रिपोर्ट बनाते थे. पुलिस ने आरोपियों के पास सेलैपटॉप और फोन बरामद किया है. दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.जानकारी के मुताबिक लखनऊ के थाना विभूतिखंड क्षेत्र में डॉक्टर शिवेंद्र विक्रम सिंह और ज्योति सिंह का डायग्नोस्टिक सेंटर चलता है.इन दोनोंने पुलिस को खुद इसकी सूचना दी थी कि उनकेडायग्नोस्टिक सेंटर पर कार्यरतदो कर्मचारी लोगों की फर्जी कोरोना रिपोर्ट बना रहे हैं.पुलिस ने सूचना पर कार्यवाही करते हुए सेंटर के कर्मचारी शिवम कुशवाहा और शुभम गौतम पर जांच रिपोर्ट में फर्जीवाड़ा करने की बात का खुलासा किया औरमौके पर पहुंच कर पुलिस ने दोनों आरोपियोंको गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने वोलैपटॉप और मोबाइल बरामद किया गया जिससे वे यहफर्जी रिपोर्ट तैयार करते थे.डीसीपी पूर्वी जोन संजीव सुमन के मुताबिक लखनऊ विभूतिखंड में सूचना मिली जिमसें डाइग्नोस्टिक के मालिक डॉक्टर ने बताया कि उनके कर्मचारियों द्वारा बिना उनकी जानकारी के सैम्पल लेकर कोरोना की फर्जी जांच रिपोर्ट दी जा रही है जिसके बाद पुलिस ने जांच की. जांच में यह बात सच साबित हुई औरआरोपियों ने खुद ही कबूल किया. आरोपियों के मुताबिक वो फर्जी जांचरिपोर्ट तैयार करने के 900 रुपये लेते थे. पुलिस मामले की जांच कर रही है और पता लगा रही है कि आरोपियों ने अबतक कितने लोगों की फर्जी जांच रिपोर्ट तैयार की है.

访客,请您发表评论:

网站分类
热门文章
友情链接

© 2023. sitemap